Thursday, July 18सही समय पर सच्ची खबर...

पाकिस्तानी क्रिकेटर का ऐश्वर्या राय पर विवादित बयान, पाकिस्तान की सड़ी-घिनौनी मानसिकता आई सामने

Pakistani cricketer Abdul Razzaq's indecent statement on Aishwarya Rai

समरनीति न्यूज, लखनऊ डेस्क : भारत में जारी आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 में शर्मनाक हार के बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम बाहर हो चुकी है। पाकिस्तानियों की सड़ी-घिनौनी मानसिकता भी सामने आ रही है। पाकिस्तानी पूर्व क्रिकेटर अब्दुल रज्जाक ने भारतीय अभिनेत्री ऐश्वर्या राय पर एक बेहद बेशर्मीभरा अमर्यादित बयान देकर अपनी घिनौनी मानसिकता का परिचय दे डाला।

कांग्रेसी नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने लताड़ा, कहा- पाकिस्तानियों की मानसिकता सड़ी

पाकिस्तान टीम की शर्मनाक हार के बाद रज्जाक ने वहां के एक टीवी चैनल पर यह बयान दिया। रज्जाक के साथ बैठे शाहिद अफरीदी भी उसके बयान पर दांत दिखाते नजर आए। अब इन खिलाड़ियों की जमकर आलोचना हो रही है। उनकी गंदी मानसिकता भी उजागर हो रही है। खुद पाकिस्तान के बुद्धिजीवी इस बयान की आलोचना कर रहे हैं। दरअसल, अब्दुल रज्जाक ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यानी पीसीबी की

पाकिस्तान में ट्रेन में अंडे उबाल रहे थे लोग, सिलेंडर फटने से 71 मरे

आलोचना करते हुए सारी हदें पार कर दीं। उसने कहा कि पीसीबी की मानसिकता है कि वह बालीवुड अभिनेत्री ऐश्वर्या राय से शादी करें और एक नेक-गुणवान बच्चा पैदा हो, तो ऐसा कभी नहीं हो सकता। इसलिए आपको पहले अपनी मानसिकता ठीक करनी होगी। रज्जाक का यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। रज्जाक के इस बयान पर भारतीय कांग्रेस नेता और वकील अभिषेक मनु सिंघवी और पाकिस्तानी पत्रकार आरजू काजमी ने जमकर लताड़ा है। मनु सिंघवी ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि

Seema Haider : ATS की पूछताछ में इन बातों का खुलासा, क्या पाकिस्तानी जासूस है सीमा हैदर ?

भारतीय एक्ट्रेस पर रज्जाक की अभद्र टिप्पणी और उसके साथियों की हंसी बताती है कि पाकिस्तानियों की मानसिकता काफी सड़ी हुई है, जो मानसिक रूप से विकलांग संतान पैदा कर रही है। वहीं पाकिस्तानी पत्रकार आरजू काजमी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए लिखा है कि हमारे क्रिकेटर्स की यही मानसिकता है। अपने बयान पर रज्जाक को शर्म आनी चाहिए। रज्जाक ने यह शर्मनाक उदाहरण पेश किया है।पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर ने भी रज्जाक के बयान की निंदा की है।

ये भी पढ़ें : मणिपुर यौन हिंसा पर सुप्रीम कोर्ट की केंद्र को दो टूक, कहा- सरकार कार्रवाई करे, वरना हम..