Monday, February 6सही समय पर सच्ची खबर...

Banda : प्रकृति-पर्यटन और धरोहर के लिए मानव श्रृंखला

Banda : Human chain of intellectuals in Rangarh fort for nature-tourism and heritage

समरनीति न्यूज, बांदा : बुंदेलखंड में पर्यटन और प्रकृति को संरक्षित करने के लिए चित्रकूट कामदगिरि के महंत मदन गोपाल दास के साथ आज बुद्धिजीवियों का एक दल नरैनी क्षेत्र में रनगढ़ किले में पहुंचा। वहां सभी ने मानव श्रृंखला बनाकर लोगों को जागरूक करने का संदेश भी दिया। दरअसल, बुद्धवार को बांदा के पनगरा गांव में केन नदी किनारे मौजूद जलदुर्ग रनगढ़ का अवलोकन करने के लिए पर्यटन और प्रकृति संरक्षक टीम ने दुर्ग को नजदीक से देखा। साथ ही दुर्ग में एक बैठक करके चर्चा भी की।

बुंदेली प्रकृति पर्यटन अभियान

इस मौके पर गोपाल उपाध्याय ने कहा बुंदेलखंड में प्राकृतिक संपदा, धार्मिक स्थल आदि धरोहर आज भी उपेक्षित पड़ी है। इनको सहेजने की खास जरूरत है। इसके लिए अभियान चलाया गया है। इसके बुंदेली प्रकृति पर्यटन नाम दिया गया। रनगढ़ किले के बाद यह टीम कालिंजर दुर्ग, बांबेश्वर मंदिर, भूरागढ़ आदि धरोहरों को देखने भी पहुंची। बैठक में वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी अवधेश गुप्ता, संरक्षक मदन गोपाल दास, पूर्व विधायक राजकरण कबीर, ग्राम प्रधान जगदीश यादव आदि मौजूद रहे।

UP : फरार सपा विधायक की बहन से रातभर पूछताछ, पुलिस ने छोड़ा तो, लेकिन क्लीन चिट नहीं

ये भी पढ़ें : ..अभी जिंदा है यह, बांदा जिला अस्पताल का एक रंग ऐसा भी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *