Monday, February 6सही समय पर सच्ची खबर...

दरिंदी पुलिस : ललितपुर में थाने में नाबालिग लड़की से SHO द्वारा रेप मामले में पूरा थाना लाइन हाजिर, आरोपी फरार

Big news : Police demanded 10 thousand from BJP worker in Banda, beating-action too, 6 measured including inspector, 3 sued

समरनीति न्यूज, लखनऊ : पुलिस हिरासत में होने वाली मौतों को लेकर दरिंदगी दिखाने वाली यूपी पुलिस का एक और घिनौना चेहरा सामने आया है। अब थाने में भी बहू-बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड के ललितपुर जिले में एक नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता से थाने में एसएचओ द्वारा रेप का मामला तूल पकड़ गया है। आरोपी थानेदार फरार है। हालांकि, उसे देर शाम प्रयागराज से गिरफ्तार कर लिया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है।

थानाध्यक्ष तिलकधारी सरोज पहले हो चुका निलंबित

अधिकारियों ने थानाध्यक्ष तिलकधारी सरोज के फरार होने के बाद उसे निलंबित कर दिया है। वहीं पूरे पाली थाने को लाइन हाजिर कर दिया गया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आरोपियों की तलाश में टीमें दबिशें दे रही हैं। उधर, एडीजी कानपुर जोन ने मामले की जांच डीआइजी झांसी को सौंपी है। उनसे 24 घंटे में रिपोर्ट तलब की है।

दुष्कर्म पीड़िता को SHO ने बनाया था हवस का शिकार

बताते चलें कि पाली की रहने वाली एक नाबालिग 13 साल की लड़की को 4 लोग बहला-फुसलाकर भगा ले गए थे। बाद में लड़की को थाने में छोड़कर फरार हो गए थे। थानाध्यक्ष तिलकधारी सरोज ने पहले लड़की का बयान कराया। इसके बाद खुद भी उसके साथ दुष्कर्म किया। बताया जा रहा है कि पुलिस ने एक महिला समेत 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी पढ़ें : Breaking : बांदा में बहन की शादी वाले दिन भाई की करंट से मौत, परिवार में कोहराम 

सस्पेंड आरोपी थानाध्यक्ष समेत तीन आरोपी फरार हैं। घटना से पूरे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। डीआइजी झांसी जोगेंद्र सिंह भी जांच के लिए पाली थाने पहुंचे हैं। एडीजी ला एंड आर्डर प्रशांत कुमार का कहना है कि एसएचओ को निलंबित और पूरे थाने को लाइन हाजिर किया गया है। बताते चलें कि एसपी निखिल पाठक के निर्देशों पर पुलिस ने मुकदमा लिखा था।

संबंधित खबर भी पढ़ें : यूपी : ललितपुर में SHO समेत 5 के खिलाफ नाबालिग से दुष्कर्म का मुकदमा, महकमे में खलबली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *