Wednesday, June 12सही समय पर सच्ची खबर...

लापरवाही : बांदा शहर के आवास विकास में गहराया पेयजल संकट, दिन में एक बार पानी-वो भी अधूरा

Negligence : Drinking water crisis deepens in housing development of Banda city

समरनीति न्यूज, बांदा : बांदा के पाॅश इलाके आवास विकास के कई ब्लाकों में पेयजल संकट बुरी तरह से गहरा गया है। जल संस्थान की लापरवाही और उसपर तकनीकि गड़बड़ियां आम जनता पर भारी पड़ रही है। आज शुक्रवार सुबह सिर्फ 15 मिनट के लिए पानी की सप्लाई आई। इस वजह से पानी के लिए हाहाकार मचा रहा। आम लोग अपनी रोज-मर्रा की जरूरत पूरी करने के लिए भी परेशान रहे। वहीं विभागीय अधिकारियों ने इसकी अलग ही वजह बताई।

तीन दिन से 15 मिनट पानी की सप्लाई

बताते चलें कि आवास विकास में सिर्फ एक समय सुबह 7 बजे पानी की सप्लाई एक घंटे के लिए खोली जाती है। वह भी कई बार कर्मचारी की लापरवाही से ठीक समय पर चालू नहीं हो पाती। या फिर समय से पहले ही बंद कर दी जाती है। स्थानीय लोगों का कहना है कि लंबे समय से जलसंस्थान ने एक ही कर्मचारी को तैनात कर रखा है, जो घाघ बन गया। मनमानी से काम करता है।

कर्मचारियों की लापरवाही जनता पर भारी

यही वजह है कि सप्लाई खोलने और बंद करने में कोई अनुशासन नहीं रखा जाता है। पिछले कई दिनों से पानी की सप्लाई प्रभावित है। ऐसे में जब इलाके के जेई राघवेंद्र सिंह से बात की गई। उन्होंने बताया कि भूरागढ़ में एक ट्रांसफार्मर फुंक गया है। इस वजह से सप्लाई प्रभावित हुई है। इसे दूर कर लिया गया है। जल्द ही सप्लाई ठीक होने लगेगी।

ये भी पढ़ेँ : बांदा में जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने किया अविरल जल अभियान का शुभारंभ, योजनाओं की समीक्षा भी